Tag

Vistar

मानव-शरीर(Manav sarer )part11

हो करके प्रभु के आनंद में बिखरने लगा है । वे कर्म प्रकृति के अ्रांगन में रमण कर जाते हैं, (उस) आत्मा के समीप नहीं रहते। (पच्चीसवां पुष्प ११-११-७२ ई०) मन और प्राण को एक सूत्र में लाने के लिए… Continue Reading →

© 2019 Made in Travels

All Rights Reserved — Up ↑