Tag

Suryamandl

मानव-शरीर(Manav sarer )part21

जब राष्ट्र में पुरोहित होते हैं तो एक दूसरे प्राणी की रक्षा होती है। तथा वे प्राणी पुरोहित की रक्षा करते हैं। इस प्रकार राष्ट्र का प्राण है समाचार तथा दूसरों की रक्षा करना। । शेष तीन आत्मा के अन्न… Continue Reading →

© 2019 Made in Travels

All Rights Reserved — Up ↑