Tag

Snyam

मानव-शरीर(Manav sarer )part15

क्योंकि उसको उनकी अनुभूति होने लगती है। जब प्रकृति होने लगी। तो वह उसको अपने में ग्रहण करने लगता है । जब ग्रहण करता है। से वह तप्त रहता है । नाना वृक्षों के फलों के जो पोषक त जब… Continue Reading →

© 2019 Made in Travels

All Rights Reserved — Up ↑