Tag

Nadia

मानव-शरीर(Manav sarer )part6

ता । इसीलिए हमें दोनों पर विचार ना चाहिए । हुन आत्मा, मन और प्राण तीनों को मूलाधार, नाभि, हृदय, कष्ठ, घ्राण, ब्रह्मरन्ध्र म ले नाना है। हमें उन प्रभावों पर विचार-विनिमय करने वाला बनना चाहिए। जिनके सम्बन्ध से हमारा… Continue Reading →

© 2019 Made in Travels

All Rights Reserved — Up ↑